Leaderboard Ad

फतेहपुर जिले के खागा तहसील के अंतर्गत कई मधुमक्खी पालक शहद का उचित मूल्य न मिलने से परेशान*

0

*फतेहपुर जिले के खागा तहसील के अंतर्गत कई मधुमक्खी पालक शहद का उचित मूल्य न मिलने से परेशान*
आज दिनांक 24 मार्च 2019 को खागा तहसील के भुरुही गांव में और केटमयी गांव ेबी कीपर और घरवासीपुर ग्रामसभा केबी की पर आपस में इकट्ठा होकर के सहद का उचित मूल्य न मिलने से परेशान और धंधा छोड़ने के लिए मजबूर आज हमसे बातचीत पर उन्होंने अपनी इच्छा जताई कि सहद 50 रुपए में बिकता है और जब यह आउट सीजन आता है तब ₹40 की चीनी खिलाते हैं इसलिए इस व्यवसाय को करने से हमें बहुत फायदा नहीं मिलता जिससे परेशान होकर मधुमक्खी पालक यह व्यवसाय छोड़ने के लिए मजबूर हो रहे हैं दूसरी तरफ सरकार मधुमक्खी पालकों को अनुदान देकर इस बिजनेस को बढ़ाना चाहती है लेकिन सहद का उचित रेट ना मिलने से किसान परेशान है इसलिए यह व्यवसाय को छोड़ने के लिए मजबूर हैं जिनमें अंबोल सिंह घनश्याम कुमार वासु घर वासेपुर पिंटू दौलतपुर यह लोग शामिल है इन की अपेक्षा है कि साहद के उचित मूल्य मिलने से हमारा भरण-पोषण एवं परिवार का सही संचालन हो सकेगा इसलिए सरकार से अपील है कि इसका उचित मूल्य निर्धारण करने की कृपा करें और इसके लिए भी एक सरकारी दुकान हो या कांटा का निर्धारण किया जाए जिससे विकी पर या मौन पालक के जितने भी व्यवसाई हैं उनको यह व्यवसाय में और उनका परिवार का भरण-पोषण हो सके

Spread the love
Share.

About Author

Leave A Reply