Leaderboard Ad

जान जोखिम में डाल, मेहरौना के दो सिपाहियों ने पकड़ा 12 गोवंश

0

जान से खेलकर गो वंश पकड़ने वाले दो सिपाही रवि पाण्डेय व राजेश सिंह

 

लार,

गोवंश की तस्करी पर लार पुलिस ने कड़ाई शुरू कर दिया है। लार थाने के मेहरौनाघाट पुलिस चौकी पर तैनात सिपाही रवि पाण्डेय व राजेश कुमार सिंह ने अपनी जान जोखिम में डाल कर एक पिकप से पश्चिम बंगाल के कत्लखाने में ले जाए जा रहे 12 गो वंश को बरामद कर लिया। दोनों सिपाहियों की आज चारो ओर बड़ी तारीफ़ की जा रही है। कारण यह है कि दोनों सिपाहियों ने अदम्य साहस का परिचय देकर मेहरौना से पीछा कर बिहार के मैरवा में जाकर गोवंश लदे पिकप को पकड़ लिया। बिहार की पुलिस से भी इन दोनों सिपाहियों को पंगा लेना पड़ा। बिहार पुलिस पकड़े गए गो वंश को इधर लाने नहीं दे रही थी।
ज्ञात हो कि मेहरौना के रास्ते बड़े पैमाने पर गो वंश की तस्करी होती है। इस कार्य में कुछ सफेदपोश लोंगों का संरक्षण प्राप्त है। ऐसे सफेदपोश अक्सर मेहरौना पुलिस चौकी पर मरडाते रहते हैं। मौका मिलते ही तस्करों से सांठगाठ करके गो वंश पार कराते हैं। मेहरौना पुलिस चौकी इसके लिए बदनाम भी है। बुधवार की रात दोनों सिपाहियों ने जिस प्रकार जान हथेली पर रखकर गो वंश बरामद किये वह काबिले तारीफ़ है। इसी के साथ यह भी सवाल उठने लगे हैं कि पश्चिम से आने वाले गो वंश लदे वाहनों को अन्य थानों की पुलिस ने क्यों नहीं रोका। इस घटना में पिकप चालक मौके से भाग गया तो सिपाही राजेश सिंह ही पिकप चलाकर लार तक लाये। यदि पुलिस का हर जवान गोहत्या जैसे जघन्य अपराध के विरोध में उतर जाएँ तो तस्करों की कमर ही टूट जाए लेकिन चन्द पैसों के लालच में कुछ पुलिसकर्मी भी तस्करों का साथ देते हैं और पारगमन कराने में मदद करते हैं।

Spread the love
Share.

About Author

Leave A Reply