Leaderboard Ad

उपजिलाधिकारी खागा विनय कुमार गुप्ता जी ने ठाकुर दरियाव सिंह स्मारक में माल्यार्पण कर मनाया स्वतंत्रता दिवस

0

Crime24hours/समाचार संपादक उत्तर प्रदेश आलोक कुमार केशरवानी

खागा फतेहपुर ::- एक तरफ जहाँ पूरा भारत देश स्वतंत्रता दिवस मना रहा वही दूसरी तरफ तहसील परिसर खागा में ध्वजारोहण व संगोष्ठी के बाद महान क्रंतिकारी ठाकुर दरियाव सिंह स्मारक में माल्यार्पण कर मनाया स्वतंत्रता दिवस तदोपरान्त नगर पंचायत खागा में महात्मा गांधी जी की प्रतिमा में माल्यार्पण कर गेस्ट रूम में नगर पंचायत अध्यक्षा गीता सिंह, जनप्रतिनिधि राम गोपाल जी व अन्य सहयोगियों के साथ जलपान किया

आप को बता दे कि अंग्रेजों के खिलाफ योजना बनाने में माहिर क्रंतिकारी ठाकुर दरियाव सिंह ने फतेहपुर जनपद को लगभग 9 जून 1857 को अपने साथियों के साथ मिलकर वर्तमान समय में चल रही ब्रिटिश सरकार के खिलाफ योजना बद्ध तरीके से बैठक की लगभग 10 जून 1857 में अपने सभी साथियों के साथ मिलकर फतेहपुर जनपद में कब्जा कर लिया । ठाकुर सुजान सिंह, हिकमत उल्ला खां व साथियों के कड़े संघर्ष के परिणाम स्वरूप फतेहपुर जनपद को 32 दिनों तक आज़ादी दिलायी। आज़ादी के समय पूरा व्यवसाय बाधित था क्योंकि उस समय दो सड़क हुवा करती थी एक मुग़ल रोड एक जीटी रोड 32 दिनों के बाद अंग्रेजों ने फिर से फतेहपुर जनपद को अपने कब्जे में ले लिया।

यह है जिले के शहीद स्मारक

बावनी इमली जहाँ इमली के पेढ में बावन शहीदों को फाँसी दी गयी।

हथगाव में गणेश शंकर विद्यार्थी कि प्रतिमा कलम के माध्यम से आज़ादी की अलख जगाई थी।

स्वतंत्र सरकार चलाने वाले ठाकुर दरियाव सिंह की खागा स्थिति गढ़ी में स्मारक स्थल।

डिप्टी कलेक्टर हिकमत उल्ला जिनका सर कलम कर सदर कोतवाली के गेट पर लटकाया था।

कल्यानपुर थाने के पास फासियाबाग जहाँ गोरो की गोली से शहीद हुवे थे क्रंतिकारी।

लगान के विरोध में जनआंदोलन खड़ा करने वाले नोनरा के शहीद राम दुलारे तिवारी।

जुमरांवा के शिव दयाल सिंह,कोराई के बाबा गयादीन दुबे जिन्हें फाँसी दी गयी थी।

शहर के हज़ारी लाल फाटक जो क्रांतिकारियों के रणनीति बनाने का मुख्य स्थान रहा।

जिला जेल के बैरिक नम्बर 9 जहाँ श्याम लाल गुप्त पार्षद ने लिखा था झण्डा गीत।

Spread the love
Share.

Leave A Reply