Leaderboard Ad

एस. टी.एफ टीम ने पकड़ा 501 किलो गांजा

0

स्पेशल टास्क फोर्स की टीम ने पकड़ा 501 किलो गांजा-
फतेहपुर खागा – बीती रात 13/03/2019 की रात एस. टी.एफ.उत्तर प्रदेश लखनऊ को अन्तर्राजीय स्तर पर अवैध मादक पदार्थ( गांजा) की तस्करी करने वाले गिरोह के दो कैरियरों(सप्लायर)को 501 किलो गांजा के साथ गिरफ्तार किया गया।जिसकी कीमत लगभग 52 लाख रुपए आंकी जा रही है। ट्रक चालक वेद सिंह पुत्र विपत्ती व कुँमर पाल पुत्र हरिश्चन्द्र निवासी नगला परमोल, पोस्ट अकोला,थाना कागारोल जिला आगरा को उपरोक्त माल के साथ गिरफ्तार किया गया।
विगत काफी दिनों से S.T.F. उत्तर प्रदेश को उड़ीसा से अवैध मादक पदार्थो की तस्करी करने वाले गिरोह के सक्रिय होने की सूचना मिल रही थी।इस संबंध में श्री अभिषेक सिंह वरिस्ठ पुलिस अधीक्षक एस. टी.एफ.उत्तर प्रदेश लखनऊ द्वारा एस. टी.एफ. की टीमों को अभिसूचना संकलन एवं कार्यवाही हेतु निर्देशित किया गया था।जिसके अनुपालन में श्री पी.के.मिश्रा पुलिस अधीक्षक के पर्यवेक्षण में एस. टी.एफ.की एक टीम द्वारा अभिसूचना संकलन की कार्यवाही शुरू की गई।तथा अभिसूचना तंत्र को सक्रिय किया गया।
अभिसूचना संकलन के दौरान जानकारी प्राप्त हुई कि मादक पदार्थो की तस्करी करने वाला एक गिरोह सक्रिय है।जिसके द्वारा अन्य राज्यो से मादक पदार्थो की तस्करी कर उत्तर प्रदेश के विभिन्न जनपदों में ला कर बिक्री किया जाता है।इस संबंध में आरक्षी प्रशांत कुमार सिंह द्वारा विस्वसनीय सूत्रों से प्राप्त सूचना कि अवैध मादक पदार्थो की तस्करी करने वाला एक गिरोह उड़ीसा से लेकर उत्तर प्रदेश तक सक्रिय है।इस गिरोह के द्वारा नालको अंगुल उड़ीसा राज्य से गांजा मंगवा कर उत्तर प्रदेश के विभिन्न जनपदों में सप्लाई किया जाता है।इस बार वह स्टील चादर से लदे ट्रक न0 R.J.05-GB 3099 ,में छिपा कर लाया जा रहा था।
इस सूचना पर विस्वास करके नारकोटिक्स कंट्रोल व्यूरो लखनऊ के अधीक्षक मो0 नवाब एक टीम को साथ ले कर एस. टी.एफ.की टीम निरीक्षक श्री अंजनी कुमार त्रिपाठी के नेतृत्व में संयुक्त रूप से कार्यवाही करने के उद्देश्य से खागा कोतवाली से लगभग 5 किलोमीटर कटोघन टोलप्लाज़ा पर पहुँच कर इंतजार करने लगे।जहाँ प्राप्त सूचना के आधार पर उक्त ट्रक न0 RJ 05 GB 3099 दिखाई दिया।जिसे रोक कर चेक करने पर पाया गया कि स्टील की चादरों की आड़ में बोरियो में भरा हुआ गांजा मौजूद है,जिस पर ट्रक ड्राइवर व खलासी को गांजा के साथ गिफ्तार कर लिया गया।जिसके पास से ड्राइविंग लाइसेंस, पैनकार्ड,ग्रीन कार्ड,आधार कार्ड की छाया प्रति,दो मोबाइल फोन, और 1200रुपये बरामद किया गया।
पूछतांछ में ट्रक चालक वेद ने बताया कि यह गांजा गजेंद्र सिंह जो आगरा का निवासी है उसने उड़ीसा से यह गांजा मेरी ट्रक में लोड करवाया था।और खुद हवाई जहाज से आगरा चला गया।मुझे आगरा पहुचने पर गजेंद्र सिंह द्वारा बताए स्थान पर उतारना था,इसके लिए मुझे तीन लाख रुपए मिलने थे।
गिफ्तार दोनो अभियुक्तों के विरुद्ध एन. सी.बी.लखनऊ द्वारा केस न0 9/2019 धारा 8/20/27ए/29/60(3)एन.डी. पी.एस. एक्ट पंजीकृत कर अग्रिम विधिक कार्यवाही की जा रही है।

Spread the love
Share.

About Author

Leave A Reply